मंत्री बनने पर पठानिया को बधाई के विज्ञापन पर उठने लगे सवाल

शिमला।। हिमाचल प्रदेश सरकार में हाल ही में मंत्री पद पाने वाले नूरपुर के विधायक राकेश पठानिया को लेकर एक नया विवाद उठ खड़ा हुआ है। शनिवार को एक अख़बार के पहले पन्ने पर छपे फ़ुल पेज ऐड में पठानिया को मंत्री बनने पर बधाई दी गई है। इसमें बड़े हिस्से पर पठानिया की तस्वीर है, साथ में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की दो छोटी तस्वीरें भी हैं। विज्ञापन देने वालों का नाम ‘नूरपुर मंडल’ लिखा गया है।

चूँकि अख़बारों के पहले पूरे पन्ने के, वो भी पूरे प्रदेश के संस्करणों में छपवाए जाने वाले विज्ञापन काफ़ी महँगे होते हैं और इनकी क़ीमत लाखों तक होती है। ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि जब कोरोना काल में अनावश्यक ख़र्चों पर कटौती पर ज़ोर दिया जा रहा है तब नूरपुर बीजेपी मंडल के पास इस विज्ञापन को देने के लिए कहां से पैसा आ गया।

राकेश पठानिया

इस विज्ञापन से सरकार की भी किरकिरी हो रही है कि कैसे नए मंत्री का 48 घटों के अंदर प्रचार शुरू हो गया है। जानकारी मिली है कि इस संबंध में बीजेपी के ही कुछ नेता संगठन को शिकायत देने की तैयारी में हैं कि पार्टी की ओर से कैसे यह विज्ञापन दिया गया और इसकी क्या ज़रूरत थी।

इस विज्ञापन को लेकर कुछ सवाल पार्टी को भी असहज कर सकते हैं। जैसे कि इस विज्ञापन का पैसा किसने दिया। अगर पैसा पार्टी ने दिया तो किस मद से और किसकी इजाज़त से दिया गया और अगर किसी समर्थक ने निजी हैसियत से दिया तो जारी करने वालों में भाजपा के नूरपुर मंडल का नाम कैसे दिया।

गोविंद ठाकुर को झटका, राजीव सहजल को बड़ी जिम्मेदारी; जानें किसे क्या मिला

SHARE