अब गोविंद सागर झील में भी होंगी वाटर स्पोर्ट्स गतिविधियाँ

ऊना।। ऊना जिले के बंगाणा उपमंडल के तहत गोविंद सागर झील में वाटर स्पोर्ट्स गतिविधियाँ शुरू करने के लिए प्रशासन प्रयासरत है। इसके लिए जिला प्रशासन और पर्यटन विभाग सयुंक्त रूप से प्रयास कर रहे हैं। हाल ही में यहाँ साहसिक खेलों के क्षेत्र में वाटर स्पोर्ट्स के ट्रायल शुरू किए गए हैं।

ट्रायल की शुरुआत करते हुए स्थानीय विधायक और प्रदेश के कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने सबसे पहले खुद मोटर बोट की सवारी की। इसके बाद अन्य ट्रायल आयोजित किये गए। गोविंद सागर झील में पैडल बोटिंग, वाटर स्कूटर और स्कीइंग जैसे खेलों के ट्रायल किए गए। यहाँ पर वाटर स्पोर्ट्स को तकनीकी कमेटी की हरी झंडी मिल चुकी है। जिसके बाद अब साहसिक खेलों को बढ़ावा देने की दिशा में प्रयास किए जा रहे हैं।

गोविंद सागर झील में गुरुवार को वाटर स्पोर्ट्स का ट्रायल आयोजित किया गया। गोविंद सागर झील में वाटर स्पोर्ट्स का यह पहला ट्रायल था। हालांकि, यहाँ पर पहले पैराग्लाइडिंग का सफल ट्रायल किया जा चुका है।

इस मौके पर कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि जब वह कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र से पहली बार विधायक बने थे, उसके बाद से ही उनका लक्ष्य रहा है कि विधानसभा क्षेत्र में साहसिक खेलों को स्थापित किया जाए। इस दिशा में समय-समय पर प्रयास किये जाते रहे हैं। उन्होंने बताया कि पहले यहां पैराग्लाइडिंग का सफल ट्रायल हो चुका है और अब वाटर स्पोर्ट्स को स्थापित करने के प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वाटर स्पोर्ट्स का भी सफल ट्रायल हुआ है। अब विधानसभा क्षेत्र में विधिवत तरीके से वाटर स्पोर्ट्स को स्थापित किया जाएगा।

SHARE