गुड़िया केस: सीबीआई ने तीन लोगों के घर की छापेमारी

शिमला।। शिमला के कोटखाई के चर्चित रेप ऐंड मर्डर केस में जांच का दायरा बढ़ाते हुए सीबीआई ने 1 आरोपी और 2 कथित संदिग्धों के घरों पर छापा मारा है। इनमें एक आशीष चौहान वही है जो मामले में आरोपी है और न्यायिक हिरासत में है जबकि दो कथित संदिग्ध वे बताए जा रहे हैं, जिनकी तस्वीर सोशल मीडिया पर आशीष के साथ अपलोड की गई थी। सीबीआई ने हलाइला इलाके में ही यह कार्रवाई की है।

 

सीबीआई की यह छापेमारी यह अहम है क्योंकि इससे यह पता चलेगा कि इस मामले के सिलसिले में जिन लोगों के फोटो वायरल हुआ थे, उनका इस केस से कोई संबंध है या नहीं। फेसबुक पर वैसे तो कुछ और भी लोगों के फोटो शेयर किए गए थे मगर छापेमारी इन तीन लोगों के यहीं हुई है। यहां पर क्या बरामद किया गया या क्या कब्जे में लिया गया, यह साफ नहीं हो पाया है। मगर हो सकता है कि कुछ दस्तावेजों और इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज को लिया हो। हालांकि चर्चा यह भी है कि कुछ के दांतों के नमूने भी लिए गए है।

सीबीआई (File Photo)

ग़ौरतलब है कि आशीष नाम के आरोपी को पुलिस ने 12 जुलाई को गिरफ्तार किया था। उसके बाद 5 और आरोपियों को गिरफ्तार किया था। इनमें से आरोपी नेपाली मूल के सूरज की कोटखाई थाने में हत्या हो गई थी। पुलिस ने राजू नाम के आरोपी पर हत्या का मामला दर्ज किया था मगर सीबीआई जांच में पुलिस की कहानी पर सवाल खड़े हो गए हैं।

 

इस बीच मुख्यमंत्री के आईटी सलाहकार गोकुल से भी सीबीआई ने इस मामले को लेकर पूछताछ होने की खबर है। दरअसल मुख्यमंत्री के फेसबुक पेज पर कुछ तस्वीरें पोस्ट हुई थीं जिनमें कहा गया था कि पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कुछ लोगों को पकड़ा है। बाद में इन तस्वीरों को हटा लिया गया था। कहा जा रहा है कि इन तस्वीरों को देखकर लोगों को लगा कि यही आरोपी हैं, मगर बाद में जब पुलिस ने अन्य लोगों को पकड़ा तो इससे लोगों में गलत संदेश चला गया। हालाकि गोकुल बुटेल पहले ही साफ कर चुके हैं कि मुख्यमंत्री के पेज पर तस्वीरें अपलोड होने से उनका कोई नाता नहीं है।

Comments

comments

LEAVE A REPLY