देखें, मधुर आवाज में डोगरी गाना गा रही हैं ये बेटियां

इन हिमाचल डेस्क।। डोगरी भाषा वैसे तो जम्मू-कश्मीर में ज़्यादा बोली जाती है मगर पड़ोसी राज्य हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में बहुत से लोग इसे बोलते-समझते हैं। यही नहीं, सीमावर्ती जिलों में तो स्थानीय बोलियों में भी डोगरी का प्रभाव देखा जाता रहा है। पश्चिमी पहाड़ी बोलियों के परिवार में, मध्यवर्ती पहाड़ी पट्टी की जनभाषाओं में, डोगरी, चंबयाली, मडवाली, मंडयाली, बिलासपुरी, बागडी आदि उल्लेखनीय हैं। यह भाषा कश्मीर रियासत और चंबा राज्य में राजकीय प्रशासन के अंदरूनी व्यवहार का माध्यम रह चुकी है।

 

खास तौर पर गाने एक पुल का काम करते हैं अलग भाषाओं के बीच। हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के कई गायक समान रूप से डोगरी गाने भी गाते रहे हैं। बहरहाल, आज हम डोगरी गाना गा रही दो बेटियों का वीडियो आपके साथ शेयर कर रहे हैं जिसे बहुत पसंद किया जा रहा है। डोगरे दी शान बखरी नाम के पेज ने स्वतंत्रता दिवस पर इस गाने को शेयर किया है। संभवत: रामनगर के किन्हीं सरस भारती नाम के शख्स ने यह वीडियो इस पेज को दिया गया होगा। इस गाने में दिख रही बेटियों के बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है, मगर मधुर आवाज़ में उन्होंने डोगरी गाने को अच्छे से पेश किया है। सुनें:

बीच-बीच में वीडियो में आसपास का प्राकृतिक सौन्दर्य भी नज़र आता है। यह वीडियो याद दिलाता है उस दौर की जब मनोरंजन के साधन नहीं हुआ करते थे। पहाड़ों के लोग इसी तरह से गीत गाते हुए काम किया करते थे। फुरसत में नाचा-गाया करते थे और त्योहार मनाया करते थे। ऐसा आज कम ही देखने को मिलता है।

Comments

comments

LEAVE A REPLY