28 C
Shimla
Wednesday, June 26, 2019
Home Political Analysis

Political Analysis

बीजेपी में शांता-धूमल की तरह कभी नहीं होगा नड्डा-धूमल शीतयुद्ध!

सुरेश चंबयाल प्रदेश की अखबारें केंद्रीय मन्त्री जेपी नड्डा के शिमला दौरे के बाद से कई अटकलों एवं चर्चाओं से अटी पड़ी हैं। कुछ...

तो क्या जल्दी चुनाव करवा रहे हैं वीरभद्र सिंह?

सुरेश चंबयाल प्रदेश में हालांकि चुनावों में वक़्त है परन्तु राजनीतिक खींचतान देखकर लगता है प्रदेश राजनीति के चाणक्य वीरभद्र सिंह अपने जीवन के अंतिम...

लेख: कहीं राजनीतिक हथियार तो नहीं बन गए HRTC कर्मचारी?

आई.एस. ठाकुर हिमाचल प्रदेश में अव्यवस्था का मौहाल है। प्रदेश की जीवनधारा कही जाने वाली एचआरटीसी के कर्मचारी हड़ताल पर हैं। हाई कोर्ट के...

हिमाचल में कमजोर हो रही हैं दोनों राष्ट्रीय दलों की दीवारें

विवेक अविनाशी।। हिमाचल प्रदेश में वर्ष 2017 में विधानसभा के चुनाव हैं। प्रदेश में दोनों राष्ट्रीय दल यानी भारतीय जनता पार्टी और  कांग्रेस  पार्टी...

लेख: जनता को महंगी पड़ रही है कौल सिंह और गुलाब...

भूप सिंह ठाकुर (पिछले हिस्से में आपने ठाकुर कौल सिंह की राजनीति के बारे में पढ़ा, दूसरे हिस्से में बात ठाकुर गुलाब सिंह की। पाठकों...

लेख: जनता को महंगी पड़ रही है कौल सिंह और गुलाब...

(लेख लंबा है, इसलिए दो हिस्सों में बांट दिया गया है। आगे वाले हिस्से का लिंक नीचे दिया गया है।) भूप सिंह ठाकुर ठाकुर कौल...

प्रदेश राजनीति में बाली शांता जुगलबंदी के मायने !

सुरेश चंबयाल हिमाचल की राजनीति में आजकल खासे किस्से उभर कर सामने आ रहे हैं एक तरफ धूमल एवं वीरभद्र परिवारों की आपसी खींचतान चरम...

पोल: कांग्रेस के अगले CM के लिए जी.एस. बाली लोगों की...

इन हिमाचल डेस्क।। आय से अधिक संपत्ति के मामले में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का भविष्य कोर्ट में अटका पड़ा है। सीबीआई ने...

बी जे पी नारी एवं युवा शक्ति विंग की सरदारी कांगड़ा...

इन हिमाचल डेस्क। मिशन 2017 की तैयारी में जुडी  हिमाचल प्रदेश बी जे पी पिछली बार की तरह इस बार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती...

कार्यकरणी गठन से नाखुश वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता ने अमित शाह को...

इन हिमाचल डेस्क  बीजेपी प्रसिडेंट सतपाल सत्ती ने अपनी कार्यकरणी का विस्तार कर दिया है जिसमे कई नए पुराने चेहरों को जगह दी गई है।...