हिमाचल में खाकी की मिलीभगत से चल रहा है नशे का कारोबार?

ऊना।। एक तरफ तो हिमाचल पुलिस के कई अधिकारी नशे के कारोबार के खिलाफ दिन-रात अभियान चला रहे हैं, दूसरी तरफ कुछ खाकी वाले ऐसे भी हैं जो चंद पैसों के लालच में हिमाचल प्रदेश के भविष्य को बर्बाद करने पर तुले हुए हैं।

जानकारी सामने आई है कि पंजाब से चिट्टा ला रहे तीन युवक जब पुलिस के हत्थे चढ़े तो उन्होंने दावा किया कि एएसपी स्तर का एक अधिकारी हर महीने उनसे 25 हजार और एसआईयू टीम का इन्चार्ज 4 हजार रुपये की घूस लिया करते थे।

दावा किया गया कि एक साल पहले से यह खेल चल रहा था। अब दोनों अधिकारियों का यहां से तबादला हो चुका है। एसपी ऊना दिवाकर शर्मा ने पूर्व एसआईयू इंचार्ज को तो तुरंत सस्पेंड कर दिया है वहीं एएसपी पर कार्रवाई के लिए डीजीपी को रिपोर्ट भेजी है।

इस मामले ने संकेत दिए है कि और भी पुलिस वाले इस खेल में सामिल हो सकते हैं। एसपी दिवाकर शर्मा ने मीडिया से कहा कि पुलिस संदिग्धों से पूछताछ कर रही है और नशे के इस काले कारोबार से जुड़े किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा।

Comments

comments

LEAVE A REPLY