मंडी के पड्डल मैदान में खाली रह गईं राहुल की रैली की कुर्सियां

एमबीएम न्यूज नेटवर्क, मंडी।। राज्य की कांग्रेस सरकार ने जिस रैली को ऐतिहासिक बनाने की ठानी थी, उस रैली की कुर्सियां खाली रह गईं। ‘विकास से विजय की ओर’ रैली की शुरूआत से लेकर अंत तक पंडाल के पीछले हिस्से की कुर्सियां बैठने वालों का इंतजार की करती रह गई। सरकार और कांग्रेसी नेताओं ने दावे किए थे कि रैली ऐतिहासिक होगी और वह गलत आकंड़े जारी नहीं करेंगे जो भी होगा सभी के समक्ष होगा।

 

कुछ कांग्रेसी नेताओं ने तो बिलासुपर में हुई प्रधानमंत्री की रैली से चार गुणा अधिक भीड़ उमड़ने का दंभ भी भरा था, लेकिन जब रैली हुई तो इन सब बातों की हवा निकल गई। रैली का समय सुबह दस बजे निर्धारित किया गया था। दस बजे तक बनाए गए पंडाल का एक चौथाई हिस्सा भी नहीं भर पाया था।

इस रैली में आई भीड़ को लेकर न्यूज 18 हिमाचल ने क्या रिपोर्ट किया है, देखें:

यहां तक कि सीएम वीरभद्र सिंह भी 11 बजे तक रैली स्थल पर पहुंच गए थे और उनके सामने भी खाली कुर्सियां उन्हें चिढ़ा रही थी। बाद में धीरे-धीरे करके लोगों के आने का सिलसिला शुरू हुआ।

Image: MBM News Network

राहुल गांधी के आने तक अधिकतर खाली कुर्सियां भर चुकी थी, लेकिन अभी भी पंडाल का पीछे वाला एक हिस्सा खाली कुर्सियों से भरा पड़ा था।

Image may contain: sky, crowd, outdoor and nature

एमबीएम न्यूज नेटवर्क का फेसबुक पेज लाइक करें

हालांकि अधिकतर लोग मैदान की सीढ़ियों पर भी बैठे थे लेकिन जहां कुर्सियां थी वहां लोग बड़े आराम से बैठे हुए नजर आए, क्योंकि कुर्सियों को लेकर कोई मारा-मारी नहीं थी। कहीं न कहीं कांग्रेस की तरफ से भीड़ उमड़ने का जो दावा किया गया था वह सही साबित नहीं हो सका।

(यह एमबीएम न्यूज नेटवर्क की खबर है जो सिंडिकेशन के तहत प्रकाशित की गई है)

Comments

comments

LEAVE A REPLY