बिंदल सुंदर नारी नहीं कि नाहन की जनता बार-बार मोहित हो जाए: वीरभद्र

सिरमौर।। सिरमौर दौर पर गए हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने फिर एक बार ऐसी मिसाल दी है, जो अनावश्यक और सेक्सिस्ट थी। नाहन से बीजेपी विधायक राजीव बिंदल पर टिप्पणी करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ‘बिंदल कोई सुंदर नारी नहीं, जो नाहन की जनता उन पर मोहित हो जाए।‘ इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि पैसे के दम पर राजीव बिंदल ने चुनाव जीते हैं।

 

महिलाओं से तुलना करना ठीक नहीं
उनके कहने का अर्थ जो भी हो, उनका यह मिसाल देने कहीं न कहीं महिलाओं और जनता के लिए अपमानजनक है। महिलाओं के आधार पर इस तरह के बयान देने को Sexist यानी लिंग के आधार पर भेदभाव या छांटीकशी करने वाला माना जाता है। इस तरह की टिप्पणियां न सिर्फ महिलाओं, बल्कि लोकतंत्र और जनमत का अपमान भी है। क्या वीरभद्र यह कहना चाहते थे कि जनता का किसी नेता को चुनना उसपर मोहित होना है और बार-बार मोहित होने पर ही कोई नेता जीतता है? तो मुख्यमंत्री खुद कैसे बार-बार जीतते रहे हैं? और क्या कोई महिला नेता अगर-अगर बार जीतती है तो वह अपनी सुंदरता की वजह से जीतती है? जनता को मोहित करके जीतती है?

 

बहरहाल, राजीव बिंदल ने भी इसपर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री ने नारी जाति का अपमान किया है और उन्हें राजनीति से जोड़ने की कोशिश की है। उन्होंने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने नाहन और सिरमौर की जनता को बिकाऊ कहकर उनका अपमान किया है और सिरमौर के कांग्रेसी नेताओं को भी काली भेड़ें कहकर उन्हें अपमानित किया है।’

 

उन्होंने मुख्यमंत्री की उस टिप्पणी की भी आलोचना की, जिसमें उन्होंने कहा था कि सोलन के बाद बिंदल ने नाहन के लोगों को ठगा। मुख्यमंत्री ने कहा था कि मैं बाहर से आकर दूसरे स्थानों पर बसने के खिलाफ हूं। इस पर बिंदल ने कहा है कि मेरे पर निशाना साधने वाले वीरभद्र सिंह ने अपने तंबू रामपुर से उखाड़कर रोहड़ू में लगाए। रोहड़ू से उखाड़ कर शिमला ग्रामीण में लगाए और अब जहां भी वे तंबू लगाएंगे जनता उनका तंबू हमेशा के लिए उखाड़ देगी।

मुख्यमंत्री देते रहे हैं अमर्यादित मिसालें
शायद उम्र जिम्मेदार है या कुछ और वजह है, मुख्यमंत्री लगातार अजीब बयान दे रहे हैं। पिछले दिनों गद्दी समुदाय को लेकर की गई टिप्पणी के कारण पार्टी की काफी फजीहत हुई है। नीचे देखें, मुख्यमंत्री के कुछ अजीब बयान-

मुख्यमंत्री ने गद्दी समाज का जिक्र करते हुए सत्ती पर की टिप्पणी

सीएम ने सफाई कर्मचारियों का हवाला देकर बीजेपी पर तंज

गुड़िया केस में मुख्यमंत्री ने कहा ज्यादा होशियार बन रहे हैं लोग

महेश्वर सिंह ने पत्नी वाले बयान पर मुख्यमंत्री पर किया पलटवार

मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री नड्डा को बताया बदतमीज लड़का

मुझे वो दिन भी याद है जब सुक्खू पैदा हुए थे

वनरक्षक की मौत पर बोले सीएम- ऐसे मामले होते रहते हैं 

मुख्यमंत्री ने चौपाल के विधायक पर किए व्यक्तिगत कॉमेंट

स्वाइन फ्लू से मौतों पर मुख्यमंत्री का शर्मनाक बयान

वीरभद्र ने स्वर्गीय आई.डी. धीमान पर की टिप्पणी

मुख्यमंत्री ने बीजेपी विधायक पर निजी टिप्पणी

कार्यकर्ता पर मंच से ही भड़क गए मुख्यमंत्री

खराब सड़कों के सवाल पर मीडिया पर बिफरे सीएम

Comments

comments

LEAVE A REPLY