बुजुर्ग पुजारिन के निधन के बाद यहां प्रकट हुए थी माहुनाग की पिंडी

एमबीएम न्यूज नेटवर्क, मंडी।। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के जोगिंदर नगर में त्रैंबली ग्राम पंचायत में आने वाले गांव मझेड़ में माहुनाग देवता का करीब 100 साल पुराना मंदिर है। यह मंदिर पूरे इलाके के लोगों की आस्था का केंद्र है।

पहले इस जगह पर जंगल हुआ करता था और गांव की बुजुर्ग महिला मंगसरू देवी यहां आकर साधना किया करती थीं। लोग उनके पास आते और मंगसरू देवी उनकी समस्याओं का समाधान किया करतीं।

बुजुर्ग मंगसरू देवी के देहावसान के बाद लोगों ने देखा कि जहां पर पूजा करती थीं, वहां पर एक पिंडी है।

लोगों ने दूसरे मंदिरों के पुजारियों से बात की तो पचा चला कि नाग देवता यहां प्रकट हुए हैं। लोगों ने यहां पर देवता का मंदिर बनाया और तब से लेकर आज तक लोग यहां पर आते हैं।

मंदिर में इस प्राचीन पिंडी के साथ-साथ कुछ पुराने वाद्ययंत्र भी रखे गए हैं। इन्हें धार्मिक कार्यक्रमों और शादी-विवाह आदि में इस्तेमाल किया जाता है। यहां बड़ा सा ढोल, ढोलकी और नरसिंघा मौजूद है।

एमबीएम न्यूज नेटवर्क का फेसबुक पेज लाइक करें

मंदिर के मौजूदा पुजारी बोनूराम 70 साल के हैं। उनका कहना है कि यहां आने वालों की हर शुभ मनोकामना पूरी होती है।

(यह एमबीएम न्यूज नेवटर्क की खबर है और सिंडिकेशन के तहत प्रकाशित की गई है। कुछ तस्वीरें जोगिंदर नगर डॉट कॉम से साभार ली गई हैं।)

SHARE